इन तीन भारतीय खिलाड़ियों ने अकेले अपने प्रदर्शन से पाकिस्तान को धूल चटाई

क्रिकेट की बात जब भी की जाती है तो भारत और पाकिस्तान के मैचों का ज़िक्र किये बिना सब अधूरा है।   जब भी ये दोनों टीमें आपने सामने होती है और कोई खिलाड़ी उस समय सबसे बढ़िया खेल जाए तो बस रातों रात वो सबसे बढ़िया खिलाड़ी बन जाता है।

भारत पाकिस्तान मैच का रोमांच है ही कुछ ऐसा की बस देखने वालों के दिल हर एक गेंद, हर एक चौके छक्के पर जोर जोर से धक् धक् करने लगते है। अगर कोई गेंदबाज 5 विकेट लिए जाए या कोई बल्लेबाज शतक बना दे तो बस इसे कहते है रोमांच का तड़का।

चलिए आज बताते है आपको ऐसे तीन भारतीय बल्लेबाज जिन्होंने अकेले ही अपने शानदार बल्कि बल्लेबाजी से पाकिस्तान को एक दिवसीय मैचों में धूल चटा दी।

सबसे पहले है क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर जिन्होंने 16 मार्च 2004 में पाकिस्तान में खेलते हुए पाकिस्तान के खिलाफ ही शानदार 141 रन की पारी खेली थी और मैच को अपने अकेले के ही दम से जीता ले गए थे।

इसके बाद बात करते है भारतीय टीम के पूर्व और सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की जिन्होंने 5 अप्रैल 2005 में पाकिस्तान के खिलाफ ताबड़ तोड़ 148 रन की पारी खेल भारत को इस मैच में जीत दिलवाई थी।


और आखिर में बात करते है भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली की जिन्होंने 18 मार्च 2012 को बांग्लादेश में पाकिस्तान की खिलाफ जो 183 रन की पारी खेली उसे शायद ही कोई भुल पाया हो। ये 183 रन किसी भी भारतीय ख़िलाड़ी द्वारा पाकिस्तान के खिलाफ बनाये गए सबसे ज्यादा उच्च स्कोर में से है

Popular posts from this blog

Why is Diwali celebrated 21 days after Dussehra ?

Haryana Ki Boli : English To Haryanvi

नवरात्रों में इस एक मंत्र से खिल उठेंगे शादी के योग